पटना. राज्य के टीईटी एवं एसटीईटी पास सभी प्रशिक्षित अभ्यर्थियों का नियोजन किया जाएगा।


पटना. राज्य के टीईटी एवं एसटीईटी पास सभी प्रशिक्षित अभ्यर्थियों का नियोजन किया जाएगा। शिक्षा विभाग ने शुक्रवार को पत्रांक संख्या 2722 जारी कर प्रशिक्षित... अभ्यर्थियों की सभी मांगों को मानने की घोषणा की। भास्कर ने 27 फरवरी को खुलासा किया था कि पुराने शिक्षकों की हेराफेरी के कारण 20 हजार नौकरी पाने से वंचित रह गए हैं। इसी को आधार मानते हुए शिक्षा विभाग के माध्यमिक निदेशक आरबी चौधरी द्वारा शुक्रवार को जारी पत्र में कहा गया है कि स्कैन सर्टिफिकेट के सहारे नौकरी पाने वाले राज्य के सभी शिक्षकों पर प्राथमिकी दर्ज की जाएगी। अगले कैंप के लिए रिक्तियों की दस गुना की सीमा को समाप्त कर दिया गया है। वहीं, नियोजन प्रक्रिया समाप्त होने तक नियुक्त हो चुके शिक्षकों को उनके टीईटी एवं एसटीईटी के अंक प्रमाण पत्र नहीं लौटाए जाएंगे। प्रशिक्षित अभ्यर्थियों के नहीं मिलने पर ही अप्रशिक्षितों का नियोजन किया जाएगा। अनशनकारियों को दिलासा शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव अमरजीत सिन्हा ने अनशनकारी टीईटी एवं एसटीईटी पास शिक्षक अभ्यर्थियों से समझौता के दौरान तीन मार्च तक डीईओ और डीपीओ की बैठक के बाद नियोजन के लिए अगली कैंप की तिथि जारी करने का आश्वासन दिया। इस मौके पर शिक्षा विभाग के माध्यमिक शिक्षा निदेशक आरबी चौधरी और उप निदेशक अजीत कुमार उपस्थित थे।

Ads top Article

Ads middle Article 1

Ads middle Article 2

Ads bottom Article